बिहार हरी खाद योजना | लाभ, पात्रता, दस्तावेज व आवेदन कैसे करें?

बिहार राज्य के किसानों की फसल उत्पादकता को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार के द्वारा कई प्रकार की योजनाएं संचालित की जा रही है ताकि किसानों की आय में वृद्धि करके उनकी आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाकर जा सके। इसी दिशा में कार्य करते हुए एक बार फिर बिहार सरकार के द्वारा Bihar Hari Khad Yojana 2024 शुरू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा हरी खाद यानी मूंग और ढैंचा की खेती के लिए किसानों को अनुदान राशि का लाभ प्रदान किया जाएगा। 

बिहार हरी खाद योजना के तहत बिहार राज्य के किसानों को ढैंचा की फसल के बीज को खरीदने के लिए सरकार के द्वारा अनुदान राशि प्रदान की जाएगी इसके लिए उम्मीदवार किसानों को ऑनलाइन माध्यम से आवेदन करना होगा। यदि आप भी बिहार राज्य में निवास करने वाले किसान हैं और ढैंचा की खेती करने के लिए Bihar Hari Khad Yojana 2024 के अंतर्गत आवेदन करके लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपके लिए हमारा यह आर्टिकल बहुत ही उपयोगी साबित होगा। 

क्योंकि आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से बिहार राज्य सरकार के द्वारा किसानों के कल्याण हेतु शुरू की गई बिहार हरि खाद्य योजना 2024 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराने वाले हैं। आप हमारे इस आर्टिकल में बताई गई जानकारी को पढ़कर बिना किसी समस्या के घर बैठे इस योजना के अंतर्गत आवेदन करके अनुदान राशि का लाभ प्राप्त कर सकते है। तो और अधिक समय की बर्बादी किए बिना चलिए बिहार हरि खाद्य योजना के बारे में जानते है- 

Contents show

बिहार हरी खाद योजना 2024 क्या है? | Bihar Hari Khad Yojana 2024 Kya Hai in Hindi 

बिहार राज्य सरकार के द्वारा राज्य में मूंग और ढैंचा की खेती करने वाले किसानों को अनुदान के रूप में आर्थिक सहायता राशि का लाभ प्रदान करने के लिए हरी खाद योजना को एक बार फिर शुरू किया गया है। Bihar Hari Khad Yojana के अंतर्गत राज्य के लाभार्थी किसानों गरमा फसल के लिए अनुदान दिया जाएगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि राज्य सरकार के द्वारा बिहार हरी खाद योजना 2024 के तहत किसानों को मूंग बीज की खरीद पर 80 फीसदी अनुदान प्रदान किया जाएगा।

बिहार हरी खाद योजना 2

और वहीं ढैंचा की खेती करने पर किसानों को 90 फीसदी अनुदान प्रदान किया जाएगा, जो लाभार्थी किसानों के बैंक खाते में डायरेक्ट ट्रांसफर की जाएगी। बिहार सरकार के द्वारा सभी किसानों के लिए प्रखंड या जिला स्तर पर निगम के डीलर नेटवर्क और अन्य स्रोतों के माध्यम से मूंग और ढैंचा फसल के बीज उपलब्ध कराए जाएंगे। बिहार हरी खाद योजना 2024 के तहत कोई भी किसान आसानी से अधिकतम 20 किलो तक बीज प्राप्त कर सकता है। सरकार के द्वारा इस योजना के अंतर्गत गरमा मौसम में किसानों के द्वारा 28000 हेक्टर में  ढैंचा की फसल उत्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया है। 

अगर आप भी Bihar Hari Khad Yojana 2024 के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन आवेदन करने का मन बना चुके हैं तो आपके लिए हमारे द्वारा इस आर्टिकल में बिहार हरी खाद योजना 2024 का उद्देश्य, लाभ, आवश्यक पात्रता, आवश्यक दस्तावेज और ऑनलाइन आवेदन करने की पूरी प्रक्रिया के संबंध में बताया जा रहा है इसलिए आप सभी को इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे इस लेखको ध्यानपूर्वक अंत तक पूरा पढ़ना होगा।

ढैंचा क्या है? | What is Dhancha in Hindi 

Bihar Hari Khad Yojana के अंतर्गत लाभ आपको कैसे मिलेगा? के संबंध में जानने से पहले आपको यह जान लेना चाहिए कि आखिर ढैंचा क्या है? यदि आप इसके संबंध में नहीं जानते तो हम आपको बता दें कि यह एक प्रकार की हरी खाद वाली फसल है जिसे मुख्य रूप से खेती हेतु हरी खाद बनाने के लिए उगाया जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ढैंचा के पौधे बढ़ाने पर इसकी कटाई करके हरी खाद बना सकते है और यह पौधे बार-बार बढ़ाते है। हरी खाद खेत के लिए बहुत ही उपयोगी होती है इसका इस्तेमाल करने के उपरांत उड़िया इत्यादि की आवश्यकता नहीं होती। 

क्योंकि यह मिट्टी के स्वास्थ्य के लिए जरूरी जैविक रासायनिक और भौतिक और जलधारण क्षमता बढ़ाने में काफी मदद करती है। इसके अलावा जब ढैंचा की कटाई होती है और इसके पौधों को कुछ समय खेतों में सड़ने के लिए छोड़ दिया जाता है तो यह खेतों की मिट्टी में नाइट्रोजन, पोटाश, गंधक, कैल्शियम, मैग्नीशियम, तांबा, जस्ता, लोहा जैसे कई पोषक तत्व की मात्रा को बढ़ाने में भी सहयोग करता है।

बिहार हरी खाद योजना 2024 का उद्देश्य | Objective of Bihar Green Manure Scheme 2024

बिहार राज्य के किसानों के लिए राज्य सरकार के द्वारा एक बार फिर हरी खाद योजना 2024 कुछ सुचारू रूप से लागू कर दिया गया है। राज्य सरकार के द्वारा इस योजना को शुरू करने का एकमात्र उद्देश्य राज्य में जैविक खेती को प्रोत्साहित करना और किसानों की आय में वृद्धि करना है। जिसके लिए बिहार सरकार किसानों को मूंग और ढैंचा की खेती करने के लिए अनुदान राशि प्रदान कर रही है ताकि मिट्टी में मौजूद जीवाश्म और कार्बनिक पदार्थ की मात्रा में वृद्धि की जा सके।

क्योंकि किसी भी फसल की पैदावार के लिए मिट्टी में मौजूद जीवाश्म और कार्बनिक पदार्थ बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं लेकिन अत्यधिक कीटनाशकों के उपयोग के कारण मिट्टी की उर्वरकता कम होती जा रही है। बिहार हरी खाद योजना 2024 के माध्यम से किसान बहुत ही सस्ती कीमत पर  मूंग और ढैंचा की खेती करने के लिए बीज खरीद सकते हैं जिससे किसानों के आय में वृद्धि होगी और उनकी आर्थिक स्थिति में भी सुधार होगा।

ढैंचा के लिए किसान 12 मई तक कर सकेंगे आवेदन 

जैसे कि हमने आपको बताया कि बिहार राज्य सरकार के द्वारा हरी खाद योजना 2024 के अंतर्गत लाभार्थी किसानों को ढैंचा के बीच के लिए अनुदान राशि प्रदान की जा रही है ताकि किसान सस्ती कीमतों पर आसानी से ढैंचा की खेती करने के लिए बीज खरीद सकें। बिहार राज्य के जो भी किसान Bihar Hari Khad Yojana के अंतर्गत आवेदन करके ढैंचा के लिए अनुदान राशि का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो उन्हें इस योजना के अंतर्गत जल्द से जल्द आवेदन करना होगा।

क्योंकि ढैंचा के लिए किसान 12 मई तक इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते है। इसके बाद 22 में तक किसानों को सस्ती कीमतों पर बीज वितरण किए जाएंगे। बिहार राज्य सरकार के द्वारा हरी खाद योजना बिहार 2024 के अंतर्गत जैविक कॉरिडोर के चिन्हित किसानों और आधुनिक कृषि यंत्रों का उपयोग करने वाले किसानों को प्राथमिकता दी जाएगी ताकि राज्य में जैविक खेती को बढ़ावा देकर केमिकल युक्त कीटनाशकों के उपयोग को काम किया जा सके। 

किसानों की मिलेगी होम डिलीवरी की सुविधा

बिहार सरकार के द्वारा हरी खाद योजना 2024 के तहत राज्य के छोटे किसानों ढैंचा के बीच के लिए अनुदान प्रदान किया जा रहा है। इसके अलावा इस योजना के अंतर्गत किसानों को होम डिलीवरी की सुविधा भी प्रदान की जा रही है जिसका लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी किसानों को डिलीवरी के समय कुछ पैसे देने होंगे।

अगर कोई किसान इस योजना के अंतर्गत होम डिलीवरी की सुविधा प्राप्त करना चाहता है तो उसे ऑनलाइन आवेदन करते समय होम डिलीवरी सुविधा का चयन करना और अगर आप चाहे तो इस सुविधा को छोड़ भी सकते है। राज्य सरकार के द्वारा इस योजना के अंतर्गत किसानों को प्रति हेक्टर के हिसाब से 20 किलो तक ढैंचा के बीच का लाभ प्रदान किया जाएगा। जिसके लिए उम्मीदवार किसान 12 मई 2024 तक ऑनलाइन माध्यम से आवेदन कर सकते है।

बिहार हरी खाद योजना के लाभ | Benefits of Bihar Hari Khad Yojana in Hindi 

बिहार राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई यह योजना राज्य के आर्थिक रूप से कमजोरी सीमांत एवं छोटे वर्ग के किसानों के लिए बहुत ही लाभकारी सिद्ध होगी इसके माध्यम से बिहार सरकार के द्वारा लाभार्थी किसानों को कई प्रकार के लाभ प्रदान किए जाएंगे जिनका पूरा विवरण हमारे द्वारा निम्नलिखित प्रकार से नीचे सूचीबद्ध रूप में बताया जा रहा है, जो कुछ इस प्रकार से है- 

  • बिहार सरकार के द्वारा किसानों को जैविक खेती हेतु प्रोत्साहित करने के लिए बिहार हरी खाद योजना को शुरू किया गया है। 
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार राज्य के किसानों को मूंग और ढैंचा की खेती करने के लिए अनुदान राशि प्रदान कर रही है।
  • सरकार के द्वारा किसानों को मूंग की खेती के लिए 80% और ढैंचा की खेती के लिए 90% अनुदान राशि प्रदान की जा रही है। 
  • यह धनराशि लाभार्थी किसानों के बैंक खाते में डायरेक्ट भेजी जाएगी जिसका उपयोग करके वह सस्ती कीमत पर बीच खरीद पाएंगे। 
  • इस योजना के माध्यम से सरकार किसानों को प्रखंड या जिला स्तर पर निगम के डीलर नेटवर्क और अन्य स्रोतों के माध्यम से मूंग और ढैंचा फसल के बीज उपलब्ध कराएगी।
  • मूंग और ढैंचा की खेती होने से मिट्टी में मौजूद जीवाश्म और कार्बनिक पदार्थ की मात्रा को बढ़ाने में मदद मिलेगी। 
  • जिससे किसान कम खर्चे में अधिक पैदावार कर पाएंगे और यह उनकी आय को बढ़ाने में भी मदद कर साबित होगी।
  • Bihar Hari Khad Yojana किसानों की आर्थिक स्थिति को सुधार कर उन्हें आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने में अहम भूमिका निभाएगी।

बिहार हरी खाद योजना के लिए पात्रता मापदंड | Eligibility Criteria for Bihar Hari Khad Yojana in Hindi 

बिहार हरी खाद योजना अंतर्गत लाभ प्राप्त करने हेतु ऑनलाइन आवेदन करने वाले उम्मीदवार किसानों के लिए कुछ महत्वपूर्ण पात्रता मापदन निर्धारित की गई हैं। अगर आवेदन करने वाला उम्मीदवार किसान इन सभी योग्यताओं को पूरा करता है तो ही उसे इस योजना के अंतर्गत अनुदान प्रदान किया जाएगा। आप नीचे दी गई लिस्ट में Bihar Hari Khad Yojana के लिए निर्धारित योग्यताओं में अपनी पात्रता की जांच कर सकते हैं, जो निम्नलिखित प्रकार से है- 

  • Bihar Hari Khad Yojana के अंतर्गत आवेदन करने हेतु उम्मीदवार का बिहार राज्य का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है। 
  • इस योजना के अंतर्गत मुख्य रूप से खेती करने वाले सभी किसान आवेदन करने के लिए योग्य होंगे। 
  • जो किसान अपने खेतों में मूंग एवं ढैंचा की खेती करते हैं वे सभी इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए पात्र होंगे।
  • लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक के पास स्वयं की खेती योग्य जमीन होनी अनिवार्य है। 
  • आवेदन करने के लिए आवेदन किस का बैंक खाता उसके आधार कार्ड से लिंक होना जरूरी है।

बिहार हरी खाद योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज | Documents Required for Bihar Hari Khad Yojana 2024 

जब आप बिहार हरी खाद योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन करने जाएंगे तो आपको इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने के लिए कई आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। आपकी सुविधा के लिए हमारे द्वारा इस योजना के लिए आवश्यक दस्तावेजों की लिस्ट निम्न प्रकार से नीचे उपलब्ध कराई गई है, जैसे- 

  • आवेदक किसान का आधार कार्ड 
  • राशन कार्ड 
  • वोटर आईडी कार्ड 
  • मूल निवास प्रमाण पत्र 
  • आय प्रमाण पत्र 
  • जाति प्रमाण पत्र 
  • किसान पंजीकरण संख्या 
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ 
  • बैंक खाता विवरण 
  • मोबाइल नंबर 
  • ईमेल आईडी

बिहार हरी खाद योजना 2024 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? | How to Apply For Bihar Hari Khad Yojana 2024 Online 

बिहार राज्य में निवास करने वाले जो भी इच्छुक किसान अपने खेतों में मूंग और ढैंचा फसल की खेती करने के लिए Bihar Hari Khad Yojana 2024 के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो वह ऑनलाइन माध्यम से इस योजना के अंतर्गत अपना आवेदन कर सकते है। हमारे द्वारा बिहार हरी खाद योजना 2024 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? की पूरी प्रक्रिया निम्नलिखित प्रकार से नीचे बताई गई है जिसे अपना कर आप इस योजना के अंतर्गत आवेदन करके अनुदान का लाभ प्राप्त कर सकते है– 

  • बिहार हरी खाद योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने के लिए उम्मीदवार किस को सर्वप्रथम इसकी आधिकारिक वेबसाइट https://brbn.bihar.gov.in/ पर जाना होगा।
  • इसके उपरांत आपकी स्क्रीन पर Bihar Hari Khad Yojana 2024 की आधिकारिक वेबसाइट का मुख्य पेज ओपन हो जाएगा। 
  • यहां पर आपको कई सारे ऑप्शन दिखाई देंगे जहां आपको बीज आवेदन का भी ऑप्शन मिलेगा, आपको इस पर क्लिक करना होगा।
बिहार हरी खाद योजना
  • क्लिक करते ही आपके सामने अगला पेज ओपन हो जाएगा जहां आपको अपनी किसान पंजीकरण संख्या दर्ज करनी होगी। 
  • निर्धारित बॉक्स में किसान पंजीकरण संख्या दर्ज करने के पश्चात आपको सच के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। 
बिहार हरी खाद योजना 1
  • इसके बाद आप एक और नए पेज पर आ जाएंगे जहां आपको इस योजना से संबंधित कुछ जानकारी दिखाई देगी जिसे पढ़कर आपको नीचे दिए गए Apply के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही Apply के ऑप्शन पर क्लिक करेंगे आपकी स्क्रीन पर एक आवेदन फॉर्म ओपन हो जाएगा। 
  • अब आपको इस आवेदन फार्म में मांगी गई सभी आवश्यक जानकारी ध्यान पूर्वक दर्ज करनी होगी और फिर मांगेंगे सभी दस्तावेजों को स्कैन करके अपलोड करना होगा। 
  • इतना सब करने के पश्चात आपको एक बार अपने आवेदन फार्म में भारी गई जानकारी को चेक करना है और फिर अंत में Submit के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। 
  • इसके बाद आपको एक रसीद प्राप्त होगी जिसका प्रिंटआउट निकाल कर आप अपने पास सुरक्षित रखें। 
  • इस प्रकार से बिहार राज्य का कोई भी किसान Bihar Hari Khad Yojana 2024 Online Registration कर सकता है।

Bihar Hari Khad Yojana Related FAQs 

बिहार हरी खाद योजना 2024 क्या है?

बिहार हरी खाद योजना 2024 को बिहार राज्य सरकार के द्वारा शुरू किया गया है जिसके माध्यम से किसानों को गरमा फसल के उत्पादन के लिए अनुदान राशि का लाभ प्रदान किया जाएगा ताकि किसानों की आय में वृद्धि करके उन्हें आत्मनिर्भर बनाया जा सके। 

Bihar Hari Khad Yojana को किसके द्वारा शुरू किया गया है? 

Bihar Hari Khad Yojana की शुरुआत बिहार राज्य के कृषि विभाग एवं राज्य के बीच मंत्रालय के द्वारा शुरू किया गया है ताकि राज्य के गरीब एवं सीमांत किसानों को अनुदान पर बीज उपलब्ध कराया जा सके। 

बिहार हरी खाद योजना के तहत किन फसलों पर अनुदान दिया जाएगा? 

बिहार राज्य सरकार के द्वारा हरी खाद योजना के तहत किसानों को मूंग और ढैंचा की खेती करने हेतु बीज खरीदने के लिए अनुदान प्रदान किया जाएगा ताकि राज्य के किस कम खर्च पर आसानी से मूंग और ढैंचा फसल का उत्पादन कर सकें।

बिहार हरी खाद योजना के तहत छोटे किसानों को कितना बीज वितरण किया जाएगा?

बिहार हरी खाद योजना के तहत छोटे किसानों को प्रति हेक्टर के हिसाब से 20 किलो तक बीज वितरण किया जाएगा ताकि किसान बेहतर तरीके से ढैंचा की खेती खेती कर सकें।

Bihar Hari Khad Yojana के अंतर्गत ढैंचा की खेती कितने हेक्टेयर में कराई जाएगी?

Bihar Hari Khad Yojana के अंतर्गत इस वर्ष राज्य में तकरीबन 28000 हेक्टर में ढैंचा की खेती कराई जाएगी, जिस जमीन में मौजूद जीवाश्म और कार्मिक पदार्थ की मात्रा को बढ़ाने में काफी सहयोग मिलेगा।

बिहार हरी खाद योजना के अंतर्गत अनुदान प्राप्त करने के लिए आवेदन कैसे करें?

यदि आप बिहार हरी खाद योजना के अंतर्गत अनुदान प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको इसके आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन माध्यम से आवेदन करना होगा। जिसकी पूरी प्रक्रिया के संबंध में जानने के लिए आपको यह आर्टिकल ध्यानपूर्वक पढ़ना होगा। 

निष्कर्ष 

खेती करने के लिए मिट्टी में मौजूद जीवाश्म और कार्बन पदार्थ की मात्रा सही होना बेहद ही आवश्यक है हालांकि इसे सुधारने के लिए किस केमिकल युक्त कीटनाशक को और खाद का उपयोग करते हैं जो मिट्टी की गुणवत्ता को और भी खराब कर देते है, जिसका प्रभाव किसानों की आय पर पड़ता है। इसी समस्या के समाधान हेतु बिहार राज्य सरकार के द्वारा पुनः बिहार हरी खाद योजना 2024 को सक्रिय कर दिया गया है.

जिसके माध्यम से राज्य के किसानों को मूंग और ढैंचा की खेती करने हेतु बीज खरीदने हेतु अनुदान राशि प्रदान की जाएगी। हम उम्मीद करते हैं कि आप सभी के लिए हमारे द्वारा आज के इस आर्टिकल में Bihar Hari Khad Yojana 2024 के संबंध में बताइए सभी जानकारी उपयोगी साबित रही होगी यह अगर यह आर्टिकल आपको अच्छा लगा हो तो कृपया करके इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर अवश्य करें।

Leave a Comment