Indian River List in Hindi – भारत की नदियों की लिस्ट हिंदी में

Indian River List in Hindi – आज इस पोस्ट के जरिए हम आपको भारत की नदियों की लिस्ट हिंदी में बताने वाले हैं। अगर आप किसी Competitive Exams यानी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, तो यह पोस्ट आपके लिए काफी उपयोगी साबित होने वाला है ! क्योंकि हम इस पोस्ट के जरिए भारत में मौजूद सभी नदियों के नाम, भारत की प्रमुख नदियों की सूची, भारत की प्रमुख नदिया, List Of Rivers In  India व उनसे संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी यहां बताने वाले है।

जैसा कि आप जानते हैं, प्राचीन काल से ही भारत में कई नदियां हैं और इन नदियों का भारत की सांस्कृतिक व आर्थिक विकास में काफी महत्वपूर्ण योगदान भी रहा है। ऋग्वैदिक काल से ही भारत में नदियों का काफी महत्व रहा है। भारत में मौजूद सभी नदियों का अपना एक अलग इतिहास है और सभी नदियों का भारत में ऐतिहासिक महत्व भी है और उनसे कुछ धार्मिक कथाएं भी जुड़ी हुई है, जो कि भारत के रहने वाले लोगों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है।

Also Read :=

सालों पहले व्यापार के लिए तथा यातायात की सुविधाओं के कारण देश के ज्यादातर राज्य या नगर नदियों के किनारे बसाए गए थे और आज भी भारत के लगभग सभी धार्मिक स्थल यानी मंदिर इत्यादि किसी न किसी नदी के किनारे ही बसे हुए हैं। तो आइए जानते हैं, भारत में मौजूद सभी नदियों की कहानी के बारे में तथा भारत की नदियों की लिस्ट हिंदी में भी हम जानेंगे।

Indian River List in Hindi

यह बात बहुत ही कम लोगों को पता है, कि भारत में नदियों को चार अलग-अलग वर्गों में विभाजित किया गया है, जो कि कुछ इस तरह है :-

  • प्रायद्वीपीय नदियां
  • हिमालय की नदियां
  • तटीय नदियां और
  • स्थलीय प्रवाह क्षेत्र की नदियां

भारत की नदियों की लिस्ट हिंदी में 

भारत में लगभग बड़ी और छोटी दोनों तरह की नदियों को मिलाकर कुल 200 से भी अधिक नदियां है जिसमें पानी के बहाव के अनुसार देखा जाए तो भारत की सबसे बड़ी नदी गंगा नदी है।

लेकिन वहीं यदि लंबाई की बात की जाए तो सिंधु नदी भारत की सबसे बड़ी नदी मानी जाती है और अरवरी नदी जो राजस्थान में केवल 90 किलोमीटर तक बहती है उसे भारत की सबसे छोटी नदी कहा जाता है।

सिंधु नदी 

सिंधु नदी भारत की सबसे लंबी नदी है जिसकी लंबाई लगभग 2900 किलोमीटर तक है। इस नदी का उद्गम तिब्बत में स्थित सीन का बाब नामक जलधारा से हुआ था,  जो तिब्बत और कश्मीर के बीच बहती है।

गंगा नदी 

गंगा नदी को भारत की सबसे प्रमुख और धार्मिक नदी माना जाता है, जिसकी लंबाई लगभग 2,525 किलोमीटर है तथा इसकी 8 उप नदियां भी मौजूद है।

व्यास नदी 

व्यास नदी हिमालय पर्वत में बसा रोहतांग दर्रे में स्थित लगभग 4066 मीटर की ऊंचाई पर बसा व्यास कुंड से निकलता है।

झेलम नदी 

कश्मीर में स्थित बहुत सी नदियां झेलम नदी से आकर मिलती है तथा कश्मीर की घाटी के दक्षिण पूर्व में स्थित 4,900 मीटर की ऊंचाई पर विरिनाग के निकट एक छोटे से झरने से निकलती है।

यमुना नदी

यमुना नदी का उद्गम यमुनोत्री हिम्मत है, जो कि गंगा की सबसे लंबी और पश्चिमी सहायक नदियां है।

घाघरा नदी 

घाघरा नदी का  उद्गम स्थल मापचाचुंगो हिमनद है तथा इस नदी को पहाड़ी क्षेत्र में कौरियाला या कर्णाली कहा जाता है और मैदानी क्षेत्र में इसे घाघरा नदी के नाम से जाना जाता है।

रामगंगा नदी 

रामगंगा नदी गैरसेन के समीप गढ़वाल पहाड़ों से निकलने वाली सबसे छोटी नदी है।

रावी नदी 

रावी नदी भारत के हिमाचल प्रदेश में स्थित कुल्लू की पहाड़ी के रोहतांग दर्रे के पश्चिमी और से निकलती है और चंबा घाटी की ओर बहती है।

गंडक नदी 

गंडक नदी त्रिशूल गंगा तथा काली गंडक की दो धाराओं से मिलकर बनती है जो कि बिहार में स्थित चंपारण जिले में आकर गंगा मैदान में प्रवेश कर जाती है और पटना के समीप सोनपुर में स्थित गंगा नदी से आकर मिल जाती है

बेतवा नदी 

बेतवा नदी भारत के मध्य प्रदेश राज्य में स्थित भोपाल से निकलकर उत्तर पूर्वी दिशा में बहती है तथा यह भोपाल के अलावा झांसी ग्वालियर जलन आदि जिलों से होकर भी बहती है

ब्रह्मपुत्र नदी 

ब्रह्मापुत्र नदी दुनिया की सबसे बड़ी नदियों में से एक है जिसका उद्गम कैलाश पर्वत मैं मानसरोवर झील के समीप  चेमायुंगडुंग हिमनद में है इस नदी को ब्रह्मा का बेटा भी कहा जाता है

सोन नदी

सोन नदी गंगा से मिलने वाली एक और सबसे बड़ी सहायक नदियों में से एक है जोकि अमरकंटक पठार के भीतर से निकलती है

चंबल नदी 

चंबल नदी महू के समीप जानापाव पहाड़ी से निकलती है जिसकी ऊंचाई समुद्र तल से लगभग 616 मीटर है

कोसी नदी

कोसी नदी का उद्गम तिब्बत में स्थित माउंट एवरेस्ट के उत्तर में है तथा यह गंगा की सहायक नदियों में से एक है

साबरमती नदी

साबरमती नदी का उद्गम स्थल राजस्थान के डूंगरपुर जिले में स्थित अरावली की पहाड़ियों में है जहां से यह लगभग 300 किलोमीटर की दूरी दक्षिण पश्चिम दिशा मैं तय करने के बाद खंभात की खाड़ी में मिल जाती है

तुंगभद्रा नदी

तुंगभद्रा नदी की लंबाई लगभग 1401 किलोमीटर है जोकि कृष्णा नदी के पूर्व में बहने वाली दूसरी सबसे बड़ी प्राइम महाद्वीपीय नदी है

कृष्णा नदी

कृष्ण नदी की लंबाई लगभग 1401 किलोमीटर है जोकि पूर्वी दिशा में प्रवाह करने वाली दूसरी सबसे बड़ी प्रायद्वीपीय नदी है जोकि सह्याद्रि  में स्थित महाबलेश्वर के समीप से निकलती है

महानदी

महानदी भारत के छत्तीसगढ़ में स्थित रायपुर जिले के सेवा के करीब से निकलती है जो कि उड़ीसा से बहते हुए बंगाल की खाड़ी में अपना जल विसर्जित करती है

कावेरी नदी

कावेरी नदी मैसूर पठार में कई जलप्रपात बनाती है, जिनमें सबसे मशहूर जलप्रपात है शिवासमुद्राम तथा यह कर्नाटक में स्थित कोगाड़ु जिले में ब्रह्मागिरी पहाड़ियों से बहती है। तथा इसकी लंबाई 805 किलोमीटर तक है

दामोदर नदी

यह नदी छोटा नागपुर के पूर्व किनारे में बहती है तथा यह भ्रंश घाटी से होकर हुगली नदी तक जाती है

माहीनदी

माही नदी की शुरुआत विंध्याचल पर्वत से होती है जो कि तापी और नर्मदा नदी के बाद भारत के गुजरात राज्य की तीसरी सबसे बड़ी नदी है

नर्मदा नदी

नर्मदा नदी अमरकंटक पठार के पश्चिमी क्षेत्र से निकलती है जिसकी ऊंचाई लगभग 1057 मीटर है

महानंदा नदी

महानंदा नदी दार्जिलिंग में स्थित पहाड़ियों से निकलकर पश्चिमी बंगाल में स्थित गंगा नदी के बाएं तट पर मिलने वाली सबसे आखिरी सहायक नदी है

लूनी नदी

लूनी नदी सरस्वती और सागर मती धाराओं के रूप में उत्पन्न होती है जो कि पुष्कर के समीप स्थित है तथा गोविंदगढ़ के समीप आकर मिल जाती है जिसकी लंबाई लगभग 450 किलोमीटर है

तापी नदी

तापी नदी की लंबाई लगभग 724 किलोमीटर है जो कि देश के पश्चिमी दिशा में बहने वाली महत्वपूर्ण नदियों में से एक है यह मध्य प्रदेश में स्थित बैतूल जिले के मुलताई से निकलती है और सूरत के समीप खंभात की खाड़ी में आकर मिल जाती है।

गोदावरी नदी

गोदावरी नदी भारत के महाराष्ट्र में स्थित अन्ना से किस जिले से निकलती है तथा बंगाल की खाड़ी में गिरती है गोदावरी नदी को दक्षिण गंगा के नाम से भी दुनिया भर में जाना जाता है गोदावरी नदी की लंबाई लगभग 1465 किलोमीटर है

चेनाब नदी

चेनाब नदी दो नदियों से मिलकर यानी चंद्रा तथा भागा नदियों से मिलकर हिमाचल प्रदेश में स्थित केलांग के समीप तांडी में आकर मिलती है।

सतलुज नदी

भारत की एक और महत्वपूर्ण नदियों में से एक है जिसका उद्गम स्थल मानसरोवर के निकट गंगोत्री हिमनद से है जिसकी लंबाई लगभग 1440 किलोमीटर है।

निष्कर्ष 

यहां इस लेख में हमने ऊपर भारत की नदियों की लिस्ट हिंदी में बताइए हालांकि ऊपर बताए गए नदी के अलावा भी भारत में कई नदियां मौजूद है लेकिन हमने आपको भारत की कुछ मुख्य नदियों के नाम तथा उसके बारे में थोड़ी बहुत जानकारी प्रदान की है उम्मीद करते हैं कि आपको यह Indian River List in Hindi – भारत की नदियों की लिस्ट हिंदी में, भारत में कुल कितनी नदिया है, भारत में कौन कौन सी नदिया है जानकारी अच्छी लगी होगी।

इसी के साथ यदि यह लेख आपको Useful लगा हो, तो इसे जितना हो सके उतना अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर शेयर करें, ताकि भारत में स्थित इन तमाम नदियों के बारे में जानकारी अन्य लोगों को भी प्राप्त हो सके।

Thank You…

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।