किसानों के लिए सरकारी योजनाएं क्या है? | kisano ke liye Sarkari Yojana 2024

|| किसानों के लिए सरकारी योजनाएं क्या है? | kisano ke liye Sarkari Yojana 2024 | Top 10 Government Scheme For Formers in Hindi | किसानों के लिए सरकारी योजना | किसान क्रेडिट कार्ड योजना | KCC Yojana 2024 | प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana in Hindi | पीएम कुसुम योजना | PM KUSUM scheme | राष्ट्रीय सुरक्षा मिशन योजना | National security mission plan ||

अगर आप एक भारतीय हैं तो आप यह बात भली-भांति जानते हैं कि हमारा देश एक कृषि प्रधान देश है यहां की बड़ी आबादी खेती पर निर्भर करती हैं। भारत देश में जिन लोगों की आजीविका खेती पर निर्भर है, वह अपने खेतों में तरह-तरह की फसल उगाते है। लेकिन खेती करना बहुत ही कठिन कार्य है इसलिए भारत सरकार के द्वारा भी किसानों (kisano ke liye Sarkari yojana) को आर्थिक सहायता पहुंचाने के लिए कई प्रकार की योजनाएं संचालित की जाती है। 

इन योजनाओं के माध्यम से किसान खेती से लेकर व्यक्तिगत आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए लोन पर सब्सिडी, ​इंसेंटिव, फसल बीमा का लाभ प्राप्त कर सकते है। जो कि देश के किसानों (Top 10 Government Scheme For Formers in Hindi) को सामाजिक और आर्थिक सुरक्षा का आश्वासन प्रदान करती है।

यदि आप भारत देश के 1 किसान है और आप किसानों के लिए सरकारी योजनाएं क्या है? के संबंध में जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आपके लिए हमारा यह आज का आर्टिकल अंत तक पूरा पढ़ना होगा क्योंकि आज इस पोस्ट में हमने आज केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के द्वारा किसानों के लिए चलाई जा रही 10 सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी साझा की है। 

Contents show

किसानों के लिए सरकारी योजना  | kisano ke liye Sarkari Yojana 2024

भारत सरकार के द्वारा खेती करने वाले किसानों को आर्थिक सहायता पहुंचा कर उनकी आर्थिक स्थिति सुधारने के उद्देश्य से कई सारी योजनाओं को संचालित किया जा रहा है जिनका लाभ प्राप्त करके किसान खेती की ओर प्रोत्साहित हो रहे है.

किसानों के लिए सरकारी योजनाएं क्या है kisano ke liye Sarkari Yojana 2024

अगर आपको केंद्र अथवा राज्य सरकार के द्वारा किसानों के लिए चलाई जाने वाली सरकारी योजनाओं के संबंध में पता नहीं है तो इस आर्टिकल में हमने 10 किसानों के लिए सरकारी योजनाओं (kisano ke liye Sarkari Yojana 2024) के बारे में जिसका बताया है, जो कुछ इस प्रकार से नीचे बताए गए है-

  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
  • किसान क्रेडिट कार्ड योजना
  • प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना
  • स्माम किसान योजना
  • पीएम कुसुम योजना
  • डेयरी उद्यमिता विकास योजना (डीईडीएस)
  • पशुधन बीमा योजना
  • मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना
  • राष्ट्रीय सुरक्षा मिशन योजना

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना | PM Kisan Samman Nidhi Yojana 2024

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना 2024 को किसानों के हितों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा वर्ष 2018 में शुरू की गई एक कल्याणकारी योजना है। जिसमें मुख्य रुप से खेती करने वाले गरीब किसानों के लिए प्रारंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार के द्वारा पात्र किसानों को ₹6000 की वित्तीय सहायता राशि तीन किस्तों में प्राप्त होती है, जो कि लाभार्थी के बैंक खाते में सीधे ट्रांसफर की जाती है.

ताकि किसानों की आर्थिक स्थिति को सुधार कर उन्हें आत्मनिर्भर और सशक्त बनाया जा सके। केंद्र सरकार के द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत दी जाने वाली वित्तीय सहायता राशि प्रत्येक 4 माह के पश्चात कृषकों को प्रदान की जाती है। अभी तक केंद्र सरकार के द्वारा इस योजना के अंतर्गत किसानों के लिए 11 किस्त जारी की जा चुकी हैं और आशंका है कि जल्द ही केंद्र सरकार के द्वारा 11वीं किस्त लाभार्थी किसानों के बैंक खातों में स्थानांतरित की जाएगी। 

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana in Hindi 

भारत देश में खेती करने वाले किसानों की अधिकांश फसने प्राकृतिक आपदा जैसे- आंधी, ओलावृष्टी और तेज बारिश के कारण नष्ट हो जाती हैं जिसकी वजह से किसानों को अपने जीवन निर्वाह करने में कई तरह की समस्याएं झेलनी पड़ती है और कुछ किसान इस नुकसान के चलते आत्महत्या कर लेते हैं इसी समस्या के समाधान हेतु 18 फरवरी 2016 को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने फसल बीमा योजना 2024 का शुभारंभ किया था। यह एक ऐसी सरकारी योजना है।

जिसके माध्यम से किसानों को बुवाई से पहले से लेकर फसल की कटाई तक बीमा सुरक्षा प्राप्त होती है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत रबी, खरीफ की फसल के साथ-साथ कारोबारी और बागबानी फसलों पर बीमा सुरक्षा प्रदान की जाती है। केंद्र सरकार के द्वारा इस योजना के तहत पात्र किसानों को खरीफ फसलों के लिए 2 प्रतिशत और रबी फसलों के लिए 1.5 प्रतिशत का प्रीमियम भुगतान का भुगतान करना पड़ता है। 

किसान क्रेडिट कार्ड योजना | KCC Yojana 2024

भारत सरकार के द्वारा किसान क्रेडिट कार्ड योजना का शुभारंभ 1998 में किया गया था जिसके अंतर्गत केंद्र सरकार के द्वारा किसानों के लिए क्रेडिट कार्ड जारी किया जाता है जिसके माध्यम से किसान जरूरत पड़ने पर आसानी से लोन प्राप्त कर सकता है लेकिन इस योजना के अंतर्गत मिलने वाले लोन का उपयोग केवल किसान कृषि से सम्बंधित खाद, बीज, कीटनाशक आदि सामग्री खरीद के लिए ही कर सकता है। आपकी जानकारी के लिए बता दे किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत दिया जाने वाला कार्ड 5 वर्ष के लिए मान्य होता है। 

जिस पर किसान ₹300000 तक का लोन आसानी से प्राप्त कर सकते है। इस योजना की सबसे खास बात यह है कि यदि कोई किसान लोन लेने के पश्चात उसका भुगतान 1 वर्ष के अंदर कर देता है तो सरकार के द्वारा लोन पर 30% ब्याज पर छूट प्रदान की जाती है इसके अतिरिक्त किसान आवश्यकता पड़ने पर जल्द से जल्द तत्कालीन रूप से वित्तीय सहायता राशि निकाल सकता है। 

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना | Pradhan Mantri Kisan Mandhan Yojana 

भारत देश के अधिकांश किसान खेती करके अपना गुजारा करते हैं लेकिन जिन किसानों की आयु अधिक हो जाती है उन्हें खेती करने में काफी असुविधा होती है जिसकी वजह से उन्हें अपनी आवश्यकताओं को पूरा करने और अपना जीवन यापन करने के लिए कई मुश्किलें उठानी पड़ती हैं इन्हीं समस्याओं के समाधान के लिए मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना के माध्यम से किसानों को पेंशन की सौगात प्रदान की है। 

इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार के द्वारा 60 वर्ष कि अधिक आयु के किसानों को ₹3000 की पेंशन हर महीने मिलती है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि किसानों को इस योजना के तहत पेंशन प्राप्त करने के लिए ₹55 से लेकर ₹200 हर महीने 60 वर्ष की आयु तक जमा करने होते हैं जैसे ही किसान की आयु 60 वर्ष हो जाती है उन्हें इस योजना के तहत पेंशन प्रदान की जाती है और यदि किसी कारणवश प्रीमियम भरने वाले किसान की मृत्यु हो जाती है तो किसान की पत्नी को परिवारिक पेंशन के रूप में इस योजना के तहत जमा की गई धनराशि का 50% वापस कर दिया जाता है।

स्माम किसान योजना | Smam Kisan Yojana in Hindi 

आज के इस आधुनिक युग में भारत में कई ऐसे किसान हैं जो कृषि कार्य हेतु पुराने यंत्रों का उपयोग करते है क्योंकि आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण और धन के अभाव में किसान नए यंत्र खरीदने में असमर्थ होते हैं इसलिए केंद्र सरकार के द्वारा स्माम किसान योजना 2030 को शुरू किया गया है।

जिसका लाभ प्राप्त करके किसान खेती के लिए आधुनिक उपकरणों को बड़ी आसानी से खरीद सकते है क्योंकि केंद्र सरकार के द्वारा इस योजना के माध्यम से किसानों को खेती संबंधित आधुनिक उपकरण खरीदने हेतु सब्सिडी प्रदान की जाती है। 

ताकि खेती करने वाले किसानों को खेती करने के दौरान किसी भी प्रकार की समस्या का सामना करना ना पड़े और वह अधिक उत्पादन करके अधिक आय अर्जित कर सकें। Smam Kisan Yojana के अंतर्गत लाभ प्राप्त करना बहुत ही आसान है जो भी इच्छुक किसान इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए अपना रजिस्ट्रेशन करना चाहते हैं वह इसकी ऑफिशियल वेबसाइट यह संबंधित विभाग में जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते है।

पीएम कुसुम योजना | PM KUSUM scheme

हमारे भारत देश में कई ऐसे ग्रामीण क्षेत्र हैं जहां पर्याप्त मात्रा में बिजली ना पहुंचने के कारण किसानों को अपने खेतों की सिंचाई करने में कई मुश्किलें उठानी पड़ती हैं और कई बार तो पानी की कमी के कारण किसानों की फसलें भी प्रभावित हो जाती है किसानों की समस्या को पूर्ण रूप से खत्म करने के लिए तथा किसानों हेतु निर्बाध बिजली उपलब्ध करानें के उद्देश्य से केंद्र सरकार ने पीएम कुसुम योजना 2024 को शुरू किया है जिसके अंतर्गत किसानों को खेतों में सोलर पैनल को लगवाने और उसके खरीद पर सरकार के द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाती है। 

इस योजना के तहत लाभ प्राप्त कर के किसान बिना किसी समस्या के सोलर पैनल खरीद सकते हैं और इससे उत्पन्न होने वाली बिजली को अपनी आवश्यकता के अनुसार इस्तेमाल कर सकते हैं साथ ही साथ बिजली प्रदाता कंपनियों को बेच कर पैसा भी कमा सकते हैं। यह योजना किसानों की आर्थिक स्थिति को सुधारने और उनकी आय में वृद्धि करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है, जिसके तहत देश के लाखों किसानों को लाभ मिल चुका है।

डेयरी उद्यमिता विकास योजना (डीईडीएस) | Dairy Entrepreneurship Development Scheme (DEDs)

कई ऐसी किसान है जो खेती करने के अतिरिक्त पशु पालन भी करते है लेकिन वह पशुपालन कर के भी अधिक आय अर्जित नहीं कर पा रहे हैं ऐसे ही पशुपालन करने वाले किसानों को डेयरी उद्योग से जोड़ने के लिए केंद्र सरकार ने डेयरी उद्यमिता विकास योजना (डीईडीएस) को शुरू किया है जिसके अंतर्गत केंद्र सरकार के द्वारा किसान या पशुपालकों को डेयरी स्थापित करने के लिए वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाती है.

ताकि पशु पालन करने वाले किसान बड़े पैमाने पर दुग्ध उत्पादन करके अधिक पैसा कमा सकें। डेयरी उद्यमिता विकास योजना 2024 के माध्यम से पशुपालकों को ही नहीं बल्कि पहले से डेयरी व्यवसाय करने वाले किसान को अनुदान और प्रशिक्षण भी दिया जाता है ताकि वह बेहतर तरीके से पशुपालन करके अधिक से अधिक दुग्ध उत्पाद कर सकें. जिससे देश से में बढ़ रही दूध की मांग की आपूर्ति की जा सकेगी और किसानों की आय में भी वृद्धि होगी.

पशुधन बीमा योजना | Livestock insurance scheme in Hindi 

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि किसानों या पशुपालकों के पशुओं के आकस्मिक मृत्यु हो जाने के कारण उन्हें बहुत अधिक आर्थिक क्षति पहुंचती है। किसानों की इसी आर्थिक क्षति की पूर्ति के लिए केंद्र सरकार के द्वारा पशुधन बीमा योजना का संचालन किया जा रहा है। केंद्र सरकार के द्वारा शुरू की गई इस योजना के अंतर्गत किसानों और पशुपालकों को दुधारू मवेशियों और भैंसों पर बीमा दिया जाता है। 

इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार किसी किसानों के पशुओं की मृत्यु की स्थिति में 50 प्रतिशत तक अनुदान दिया जाता है। पशुधन बीमा योजना 2024 के अंतर्गत अधिकतम 2 पशु को लाभ दिया जाता है. पशुधन बीमा योजना के अंतर्गत यदि किसान बीमा पॉलिसी की अवधि समाप्त होने से पूर्व पशु को किसी व्यक्ति को बेच देता है तो शेष अवधि का लाभ मैं स्वामी को दिया जाता है।

मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना | Soil health card scheme

वर्तमान समय में किसान खेतों में उत्पादन बढ़ाने के लिए रसायनिक कीटनाशक और उर्वरक का उपयोग कर रहे हैं जिसकी वजह से मिट्टी की उत्पादकता निरंतर कम होती जा रही है, परिणाम स्वरूप फसलों में नए-नए लोग उत्पन्न हो रहे हैं। जिसकी वजह से निरंतर किसानों के खेतों में उत्पादन कम होता जा रहा है किसानों के खेतों में उत्पादन को बढ़ाने और असंतुलित पूर्वक का उपयोग को रोकने के लिए मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना 2024 शुरू की गई है।

Soil health card scheme के माध्यम से केंद्र सरकार देश के सभी किसानों के खेतों की मिट्टी की जांच कराई जाती है. जिसके लिए लाभार्थी किसानों को किसी भी प्रकार का पैसा खर्च नहीं करना होता है अर्थात केंद्र सरकार के द्वारा इस योजना के माध्यम से देश के किसानों के खेतों की मिट्टी निशुल्क चेक की जाती है।

जिससे यह पता लगाया जाता है कि किसानों के खेतों में किस चीज की कमी है और किस तरह के उर्वरक के उपयोग से मिट्टी की उत्पादकता बढ़ सकती है। मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना को मुख्य रूप से किसानों की उत्पादकता को बढ़ाने और गुणवत्तापूर्ण फसल पैदावार को बढ़ावा देने के लिए शुरू किया गया है। 

अगर आप एक किसान हैं और आप अपनी मिट्टी की गुणवत्ता की जांच कराना चाहते हैं तो आप इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण करके निशुल्क अपने खेत की मिट्टी का परीक्षण करवाकर जान सकते हैं कि आप एक खेत की मिट्टी में किस पोषक तत्व की कमी है। 

राष्ट्रीय सुरक्षा मिशन योजना | National security mission plan

भारत की बढ़ती आबादी के कारण लगातार खाद्य सामग्री की डिमांड बढ़ती जा रही है। देश के सभी नागरिकों को भोजन सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से तथा अधिक से अधिक लोगों को खेती करने हेतु प्रोत्साहित करने के लिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन योजना को आरंभ किया गया है जिसके अंतर्गत सरकार किसानों को गेहूँ, चावल व दलहन की उत्पादकता करने हेतु प्रोत्साहित कर रही है। ताकि भविष्य में देश के नागरिकों को खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित कराई जा सके।

अपने इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा मिशन योजना के तहत देश में चावल पाचन के लिए देश के 14 राज्य, गेहूं उत्पादन के लिए कितना राज्य और दलहन के लिए 16 राज्यों को शामिल किया है। National security mission plan देश में खाद्य सामग्री की स्थिति सुनिश्चित कराने और सभी लोगों को पर्याप्त मात्रा में खाद्य सामग्री उपलब्ध कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है।

kisano ke liye Sarkari Yojana Related FAQs

किसानों के लिए कितनी सरकारी योजनाएं चलाई जा रही है?

वैसे तो भारत सरकार के द्वारा देश के किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने और उनकी आय में वृद्धि करने के लिए सरकार की सरकारी योजनाएं चलाई जा रही है। जिनमें से कुछ के बारे में हमने ऊपर विस्तार से बताया है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना क्या है?

इस योजना को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा शुरू किया गया है जिसके अंतर्गत आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के किसानों को हर महीने ₹6000 की वित्तीय सहायता राशि तीन आसान किस्तों में प्रदान की जाती है।

किसान और पशुपालकों के लिए कौन सी योजना संचालित की जा रही है?

देश के किसानों और पशुपालकों के लिए केंद्र सरकार के द्वारा पशुधन बीमा योजना का संचालन किया जा रहा है जिसके अंतर्गत दुधारू मवेशियों और भैंस पर केंद्र सरकार के द्वारा सुरक्षा बीमा प्रदान किया जाता है।

किसानों के लिए 10 सबसे बेस्ट सरकारी योजना कौन सी है?

किसानों के लिए 10 सबसे बेस्ट सरकारी योजना निम्नलिखित प्रकार है- 
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
किसान क्रेडिट कार्ड योजना
प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना
स्माम किसान योजना
पीएम कुसुम योजना
डेयरी उद्यमिता विकास योजना (डीईडीएस)
पशुधन बीमा योजना
मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना
राष्ट्रीय सुरक्षा मिशन योजना

किसानों के लिए चलाई जाने वाली योजनाओं का लाभ कैसे मिलेगा?

किसानों के लिए चलाई जाने वाली उपरोक्त सरकारी योजनाओं इनमें से कुछ का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा और वहीं कुछ योजनाओं का लाभ केंद्र सरकार के द्वारा सीधे लाभार्थी किसानों को प्रदान करती है।

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में आप ने किसानों के लिए चलाई जा रही 10 सबसे बेस्ट सरकारी योजनाओं के संबंध में जानकारी प्राप्त की है। हम उम्मीद करते हैं कि आप सभी को किसानों के लिए सरकारी योजना  | kisano ke liye Sarkari Yojana 2024 के संबंध में बताई गई जानकारी पसंद आई होगी और आपके लिए हमारे द्वारा बताई गई सभी जानकारियों की उपयोगी साबित हुई होगी।

अगर आपको हमारे द्वारा इस आर्टिकल में बताएगी सभी जानकारी समझ आई हो तो हम आपसे अनुरोध करते हैं कि आप अपने सभी जान पहचान के लोगों के साथ इस आर्टिकल को अवश्य शेयर करें ताकि उन्हें भी सरकार के द्वारा चलाई जाने वाली योजनाओं के संबंध में जानकारी प्राप्त हो सके।

Leave a Comment