महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना | ऑनलाइन आवेदन फॉर्म | दस्तावेज, पात्रता और सहायता राशि

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2023 की शुरुआत हमारे देश में होने वाले विभिन्न जातियों के बीच मतभेद और उनके बीच पनप रही हीन भावना को खत्म करने के लिए शुरू की गई है जैसा कि हम सब लोग जानते हैं कि हमारे देश में विभिन्न जातियां एक साथ रहती हैं लेकिन समय-समय पर उनके बीच जातियों के नाम पर लड़ाइयां देखने को मिलती रहती हैं इसीलिए हमारे समाज में इंटर कास्ट की भावना अभी भी बन रही है और लोग भेदभाव  को भी अपना रहे हैं l

इसी भावना को खत्म करने के लिए महाराष्ट्र सरकार के द्वारा अंतरराष्ट्रीय विवाह योजना की शुरुआत की गई है जिसके तहत वे लोग जो inter-caste में सारी शादी करते हैं उन्हें ही इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा जिसमें शादी करने वाले जोड़े में से यदि पति या पत्नी में से कोई भी अनुसूचित जाति का है तो उसे ₹50000 तक की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है लेकिन इस वर्ष से राज्य सरकार द्वारा इस योजना की प्रोत्साहन राशि लगभग ₹300000 कर दी गई है l

अंतरजातीय विवाह योजना 2023 से संबंधित किसी भी जानकारी के बारे में आज हम आपको अपने इस आर्टिकल मैं बताने जा रहे हैं l यह योजना क्या है इसके लाभ, विशेषताएं, उद्देश्य,पात्रता,जरूरी दस्तावेज क्या-क्या है और इसके लिए आप कैसे आवेदन कर सकते हैं इन सभी जानकारियों के बारे में जानने के लिए हमारे इस आर्टिकल को बहुत ही ध्यान से पढ़िए l

Contents show

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2023 क्या है ? What is Maharashtra Inter-Caste Marriage Scheme 2023 ?

महाराष्ट्र सरकार द्वारा शुरू की गई अंतरजातीय विवाह योजना के लिए यदि जनरल कैटिगरी का कोई लड़का या लड़की  अनुसूचित जाति के किसी लड़का या लड़की से विवाह करता है तो वह इस योजना का लाभ ले सकता है l जिसके लिए आपको हिंदू विवाह अधिनियम 1954 के तहत अपने विवाह को पंजीकृत कराना होगा l

अंतर्जातीय विवाह करने वाले दंपति को राज्य सरकार द्वारा 50 हजार रूपये  की राशि और डॉ भीमराव अम्बेडकर फॉउंडेशन द्वारा  2 लाख पचास हजार रूपये आवंटित किये जायेंगे। इस योजना का लाभ उठाने के लिए इस योजना के अंतर्गत आपको आवेदन करना होगा जिसके बारे में हमने आपको नीचे विस्तार पूर्वक बताया है l

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2023 का उद्देश्य Objective of Intercaste Marriage Scheme Maharashtra 2023

इस योजना का मुख्य उद्देश्य है – कि जैसा कि आप सब लोग जानते हैं कि हमारे देश में अलग-अलग जातियों को लेकर लोगों के मन में अलग-अलग धारणाएं बनी हुई है जिसको खत्म करने के लिए सरकार द्वारा समय-समय पर योजनाएं लाई जाती रही हैं इन्हीं में से है अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2023 l जिससे लोगों के मन में सभी जातियों के लिए समानता का भाव उत्पन्न हो l

सरकार का अनुमान है कि इस योजना से लोगों के बीच उत्पन्न घृणा और हीन भावना को कम किया जा सकता है जिससे लोगों के बीच एक दूसरे की जाति को लेकर उत्पन्न भेदभाव को मिटाया जा सकता है l

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2023 की विशेषताएं Features of Intercaste Marriage Scheme Maharashtra 2023

  • इस योजना के तहत इंटर कास्ट मैरिज करने वाले दंपति को ₹300000 की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी जिसमें से ₹50000 राज्य द्वारा तथा ₹250000 भीमराव अंबेडकर फंड फाउंडेशन द्वारा दिए जाएंगे l
  • अंतरजातीय विवाह योजना की राशि सीधे आपके बैंक अकाउंट आएगी जिसके लिए आपको अपना बैंक अकाउंट ओपन कर आना होगा जिसमें आपका आधार कार्ड पंजीकृत हो l
  • इस योजना के तहत आपको सालाना आय सीमा को खत्म कर दिया गया है जिससे अधिक से अधिक लोग अंतरजातीय विवाह योजना  का लाभ उठा सकें l

अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2023 की पात्रता Eligibility of Intercaste Marriage Scheme Maharashtra 2023

इस योजना का लाभ उठाने के लिए सरकार द्वारा कुछ नियम व शर्तें लागू की गई है जिसके पूरा होने पर ही आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं :

  • इस योजना के तहत आवेदन करने वाले लाभार्थी को महाराष्ट्र का मूल निवासी होना अनिवार्य है l
  • अंतरजातीय विवाह करने वाले दंपति में दोनों की उम्र 21 साल से कम नहीं होनी चाहिए l
  • अंतरजातीय विवाह की प्रोत्साहन राशि प्राप्त करने के लिए लड़का और लड़की को कोर्ट मैरिज करना अनिवार्य है l
  • इस विभाग के अंतर्गत राशि प्राप्त करने के लिए आपको अनुसूचित जनजाति या जाति के किसी भी लड़का या लड़की से विवाह होना अनिवार्य है l

अंतरजातीय विवाह योजना 2023 के लिए आवश्यक दस्तावेज़ Documents Required for Inter-caste Marriage Scheme 2023

  • लड़का और लड़की दोनों के आधार कार्ड l
  • बैंक अकाउंट पासबुक जिसमें आधार कार्ड पंजीकृत हो l
  • लड़का और लड़की का जाति प्रमाण पत्र l
  • दोनों का आयु प्रमाण पत्र l
  • कोर्ट मैरिज का प्रमाण पत्र l
  • मोबाइल नंबर जो बैंक में पंजीकृत हो l
  • आवेदक के पासपोर्ट साइज फोटो l

अंतरजातीय विवाह योजना 2023 में आवेदन कैसे करे? How to apply in Intercaste Marriage Scheme 2023?

वे आवेदक जो इस योजना के तहत अपनी पात्रता पूरी करते हैं इस योजना के लिए Online आवेदन कर सकते हैं :

  • अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र 2023 में आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको इस योजना की Official website – sjsa.maharashtra.gov.in पर विजिट करना होगा l
  • इसके बाद सबसे पहले आपको अपनी स्क्रीन पर इस वेबसाइट का होम पेज दिखाई देगा जहां पर आप को अंतरजातीय विवाह योजना का ऑप्शन दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा l
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज ओपन हो जाएगा l जिस पर आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा जहां पर आपको पूछी गई संबंधित जानकारी जैसे नाम,विवाह की तारीख,आधार नंबर,मोबाइल नंबर, बैंक अकाउंट नंबर आदि को फील करना होगा l
  • पूछी की जानकारी को यथावत फिल करके आपको उससे संबंधित सभी डाक्यूमेंट्स को भी अपलोड कर रहा होगा l इसके बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा l इस तरह अंतरजातीय विवाह योजना के लिए आपका रजिस्ट्रेशन सफलतापूर्वक हो जाएगा l

सम्बंधित प्रश्न/उत्तर :

Q: अंतर्जातीय विवाह योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है?

Ans: इस योजना का मुख्य उद्देश्य जातीय भेदभाव को दूर करके सभी को समानता प्रदान करना है और समाज में  दूसरी जातियों के प्रति दिखाई जाने वाली हीन भावना को कम करना है l

Q: Inter-Caste Marriage scheme क्या है ?

Ans: इस स्कीम के तहत यदि कोई युवक और युवती किसी कम जाति वाली युवक युवती से शादी करता है तो उसे सरकार की ओर से ₹300000 तक की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी l

Q: अंतरजातीय विवाह योजना के लिए कौन कौन आवेदन कर सकता है ?

Ans: महाराष्ट्र के सभी युवक और युवती जो किसी अनुसूचित जाति व जनजाति कि लड़का एक लड़की से विवाह करते हैं तो वह सभी इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं l

Q: क्या 21 वर्ष से कम के लड़का और लड़की इस योजना का लाभ ले सकते हैं ?

Ans: नहीं क्योंकि इस योजना का लाभ लेने के लिए भारत सरकार के द्वारा बनाए गए कानून के अनुसार  लड़का और लड़की की न्यूनतम आयु 21 वर्ष होनी चाहिए l

Q: क्या इस योजना का लाभ उठाने के लिए कोर्ट मैरिज करनी आवश्यक है ?

Ans: जी हां आपने बिल्कुल सही सुना है इस योजना का लाभ उठाने के लिए लड़का और लड़की को कोर्ट मैरिज करनी आवश्यक है और उसके तहत मिलने वाला मैरिज सर्टिफिकेट को आप अपने आवेदन पत्र में संलग्न करना भी जरूरी है l

निष्कर्ष:-

आज हमने अपनी आर्टिकल में आपको महाराष्ट्र अंतरजातीय विवाह योजना के बारे में संपूर्ण जानकारी दी है l हमने आपको बताया है कि यह योजना, इसके लाभ, इसका मुख्य उद्देश्य  और इसके लिए जरूरी दस्तावेज कौन-कौन से हैं l हम उम्मीद करते हैं कि आपको हमारे द्वारा दी गई संपूर्ण एवं व्यवस्थित जानकारी पसंद आई होगी l तो हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर अपना अनुभव जरूर बताएं साथ ही हमारे इस आर्टिकल को जरूरतमंदों दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले l धन्यवाद!

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।