मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना | लाभ, लाभार्थी,सहायता राशि व आवेदन प्रक्रिया

|| मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना | Mukyamantri Sukh Ashray Yojana | मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना का उद्देश्य | Objective of Chief Minister Sukhashray Yojana | मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के अंतर्गत कितना पैसा मिलेगा? | मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के लिए पात्रता | Eligibility for Chief Minister Sukhashray Yojana | मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के लिए जरूरी दस्तावेज | Documents required for Chief Minister Sukh Ashray Yojana | मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना में आवेदन कैसे करें? | How to apply for Chief Minister Sukh Ashray Yojana? ||

Mukyamantri Sukh Ashray Yojana 2024 :- भारत भर में काफ़ी ऐसे निराश्रित बच्चें है जिनका रहने के लिए अपना घर नही है पेट भरने के लिए 2 वक्त की रोटी नही है। ऐसे निराश्रित बच्चो के लिए हिमाचल राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना की शुरुआत की है। जिसके अंतर्गत राज्य सरकार राज्य में इधर – उधर घूम रहे लावारिश बच्चो को गोद लेकर उनकी देखभाल की जिम्मेदारी लेगी।

अगर आप मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के बारे में जानना चाहते है तो आपके लिए हमारा आज का आर्टिकल काफी महत्वपूर्ण होने वाला है। क्योंकि आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में Mukyamantri Sukh Ashray Yojana से जुड़ी सभी जानकारी अपने इस आर्टिकल में शेयर करने जा रहे है। तो आइए जानते है-

Contents show

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना क्या है? | What is Chief Minister Sukh Ashray Yojana?

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना जिसकी शुरुआत हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू जी ने 16 फरवरी 2024 को की थी। इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार ने 6000 बच्चो को गोद लेने की जिम्मेदारी ली है। अनाथ बच्चो के साथ – साथ निराश्रित महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों को भी इस योजना में शामिल किया गया है।

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना लाभ, लाभार्थी,सहायता राशि व आवेदन प्रक्रिया

दोस्तो आपको बता दे कि मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना 2024 के अंतर्गत राज्य सरकार जिन अनाथ या असक्षम बच्चो को गोद लेगी उन बच्चो के पालन पोषण, पढ़ाई लिखाई, वाहन, शादी, घर आदि जैसी सभी सुविधाओं को प्रदान करेगी। पूरे राज्य में Mukyamantri Sukh Ashray Yojana को सुचारू रूप से चलाने के लिए राज्य सरकार ने इस योजना के लिए 10क करोड़ रुपये का बजट जारी किया है।

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना की शुरुआत करते हुए राज्य सरकार जे घोषणा की है कि इस योजना के अंर्तगत निराश्रित या असक्षम बच्चो को गोद (राज्य सरकार द्वारा चिल्ड्रन ऑफ स्टेट) अपना घर 27 बर्ष की आयु तक उनकी देखभाल जैसे शिक्षा, कोचिंग खर्च, पालन पोषण, घर आदि जैसी सभी सुविधाएं राज्य सरकार के द्वारा प्रदान की जाएंगी।

योजना का नाम मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना
राज्य का नाम हिमाचल प्रदेश
कब शुरू हुई 16 फरवरी 2024
लाभार्थी राज्य के अनाथ बच्चे, निराश्रित महिलाएं और वरिष्ठ नागरिक
उद्देश्य राज्य के अनाथ बच्चों, निराश्रित महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों को आर्थिक सहायता प्रदान करना
योजना का बजट 101 करोड़ रुपए  
आवेदन प्रक्रिया
वेबसाइट

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना का उद्देश्य | Objective of Chief Minister Sukhashray Yojana

सभी जानते है कि जिन बच्चों के पास उनके माता, पिता नही होते है या फिर गरीब परिवार से होते है उनकी देखभाल करना, पालन पोषण करना, शिक्षा आदि जैसी सुविधाएं बेहद मुश्किल हो जाती है। इन सब बातों को संज्ञान में रखते हुए हिमाचल प्रदेश राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना को शुरू किया है।

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना लाभ लाभार्थीसहायता राशि व आवेदन प्रक्रिया

जिसका मुख्य उद्देश्य अनाथ बच्चो को गोद लेकर उनका पालन पोषन करना है। ताकि अनाथ, असक्षम परिवार के बच्चो का जीवन अच्छे ढंग से व्यतीत हो सकें। अनाथ बच्चो के साथ – साथ राज्य सरकार ने निराश्रित महिलाओं और वरिष्ठ नागरिको को भी शामिल किया गया है। इस योजना के अंतर्गत निराश्रित माहिलाओं और वरिष्ठ नाहरिकों को आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के अंतर्गत कितना पैसा मिलेगा? | How much money will be given under Chief Minister Sukhashray Yojana?

  • मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के अंर्तगत अलग – अलग सुविधाओं के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी। जिसका विवरण कुछ इस प्रकार है-
  • मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के अंतर्गत गोद लेने वाले बच्चो, महिलाओं, वरिष्ठ नागरिकों का आवर्ती खाता खोला जाएगा।
  • 0 से 14 साल के बच्चो के बैंक खाते में हर महीने सरकार की तरफ से 1000 रुपए को आर्थिक सहायता राशि ट्रासंफर की जाएगी।
  • 14 से 18 बर्ष के बच्चों और एकल महिलाओं के खाते में हर महीने 2500 रुपये की आर्थिक सहायता राशि ट्रांसफर की जाएगी।
  • 18 वर्ष से अधिक आयु के बच्चो के लिए राज्य सरकार उनकी कोचिंग और छात्रावास के खर्च के लिए हर साल 1 लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रासंफर करेंगी।
  • मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के अंतर्गत लाभार्थी के कोचिंग के दौरान आवास की व्यवस्था के लिए हर महीने 4 हज़ार रुपये की आर्थिक सहायता राशि प्रदान करेगी।
  • जिन बच्चो के पास रहने के लिए घर नही है उनके लिए राज्य सरकार इस योजनता के अंतर्गत 3 बिस्वा जमीन और घर बनाने के लिए 3 लाख रुपये की आर्थिक सहायता राशि प्रदान करेंगी।
  • जब बच्चे की आयु शादी के योग्य हो जाएगी तो शादी के लिए 2 लाख रुपये की अनुदान राशि प्रदान करेगी।
  • काफी ऐसे बच्चे है जो अपना खुद का स्टार्ट करना चाहते है उन्हें मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के अंतर्गत 2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता राशि प्रदान करेंगी।
  • अनाथ बच्चो के लिए त्यौहार का उत्सव मनाने के लिए 500 रुपये हर त्यौहार पर प्रदान करेंगी।

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना की विशेषताएं और लाभ | Features and benefits of Chief Minister Sukh Ashray Yojana

  • इस योजना की शुरुआत हिमाचल प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा 16 फरवरी 2024 को की गई थी।
  • इस योजना में 6000 से अधिक बच्चों को शामिल किया जाएगा
  • इस योजना के अंतर्गत अनाथ बच्चों के साथ-साथ निराश्रित महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों को भी शामिल किया गया है।
  • योजना को पूरे राज्य में सुचारू रूप से चलाया जा सके इसके लिए राज्य सरकार के द्वारा 101 करोड रुपए का बजट जारी किया गया है
  • मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के अंतर्गत राज्य सरकार अनाथ व सक्षम बच्चों की उच्च शिक्षा से लेकर पालन पोषण घर शादी जैसी सभी व्यवस्थाओं का खर्च खुद उठाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत 18 वर्ष से अधिक अनाथ बच्चों को 27 वर्ष तक की आयु तक आफ्टर केयर इंस्टीट्यूशन में रहने और उनके खाने-पीने की सुविधा प्रदान की जाएगी

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के लिए पात्रता | Eligibility for Chief Minister Sukhashray Yojana

इस योजना का लाभ लेने के लिए कुछ पात्रताओं को पूरा करना होगा। जो कि निम्लिखित है-

  • लाभार्थी हिमाचल प्रदेश राज्य का मूल्य निवासी होना चाहिए।
  • केवल अनाथ बच्चें ही इस योजना का लाभ ले सकते है।
  • निराश्रित महिलाएँ और बरिष्ठ नागरिक भी इस योजना का लाभ ले सकते है।

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के लिए जरूरी दस्तावेज | Documents required for Chief Minister Sukh Ashray Yojana

इस योजना लाभ लेने के लिए लाभार्थी के पास कुछ जरूरी दस्तावेज होने चाहिए। जिनकी आवश्यकता इस योजना में आवेदन करते समय पड़ेगी। बाकी जरूरी दस्तावेज कुछ इस प्रकार है –

  • लाभार्थी का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • अनाथ बच्चे के माता – पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • उर्तीण कक्षा की मार्कशीट
  • कोचिंग की सुविधा के लिए छात्रावास से प्राप्त की गई रसीद
  • अगर भूमि नही है तो उसका प्रमाण
  • बैंक खाता डिटेल
  • पासपोर्ट फ़ोटो
  • मोबाइल नंबर आदि –

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना में आवेदन कैसे करें? | How to apply for Chief Minister Sukh Ashray Yojana?

दोस्तो ऊपर आर्टिकल में हम आपको मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना से जुड़ी सभी जानकारी साझा कर चुके हैं अब बात आती है कि इस योजना में आखिर आवेदन कैसे करें? तो दोस्तों इसके बारे में हम आपको जानकारी दे दें कि अभी हिमाचल प्रदेश राज्य सरकार के द्वारा सिर्फ इस योजना की घोषणा की गई है।

अभी इस योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया को शुरू नहीं किया गया है इसलिए इस योजना का लाभ लेने के लिए अभी आपको और कुछ समय तक इंतजार करना होगा। जैसे ही इस योजना से जुड़ी कोई भी जानकारी आती है। हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से सूचित कर देंगे। इसलिए आप हमारे इस आर्टिकल को बुकमार्क करके रखें।

Mukyamantri Sukh Ashray Yojana Related Faq

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना क्या हैं?

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत अनाथ बच्चो को गोद लेकर सरकार उनके पालन – पोषण की जिम्मेदारी उठाएगी।

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना किस राज्य में शुरू की गयी हैं?

इस योजना की शुरुआत हिमाचल प्रदेश राज्य में की गई है

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के अंतर्गत कितनी सहायता राशि मिलेगी?

इस योजना के अंतर्गत मिलने वाली राशि का पूरा विवरण ऊपर दिया गया है।

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के अंतर्गत कितने बच्चों को गोद लिया जाएगा?

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना के अंतर्गत सरकार 6000 अनाथ बच्चों को गोद लेगी।

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना में आवेदन कैसे करें?

मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में ऊपर स्टेप बाय स्टेप आर्टिकल में बताया गया है।

क्या मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना में निराश्रित महिलाओं और बुजुर्ग नागरिकों को भी शामिल किया गया है?

जी हाँ, मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना में निराश्रित महिलाओं और बुजुर्ग नागरिकों को भी शामिल किया गया है?

दोस्तों आज हमने आपको राज्य सरकार की एक नई मुख्यमंत्री सुख आश्रय योजना | लाभ, लाभार्थी,सहायता राशि व आवेदन प्रक्रिया उसके बारे में बताया हमने अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आपको यह बताएं कि किस प्रकार आप इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। और किस तरह आप आवेदन कर सकते हैं योजना के बारे में अधिक जानकारी एवं आपके कोई भी प्रश्न हो तो आप हमसे पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का अवश्य ही यही उत्तर देंगे धन्यवाद।

Leave a Comment